लॉकडाउन उल्लंघनकर्ताओं के घर तक एफआईआर पहुंचा रही है पुलिस

 


मुजफ्फरनगर (उप्र),  (वेबवार्ता)। मुजफ्फरनगर पुलिस ने लॉकडाउन तोड़ने वालों पर एफआईआर दर्ज कर उसकी होम डिलीवरी करनी शुरू कर दी है। रविवार को 63 एफआईआर की प्रतियां 275 लोगों को वितरित की गईं। मुजफ्फरनगर पुलिस ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई होगी और उनके एफआईआर उनके घर पर भेजी जाएगी। इन अपराधियों पर ड्रोन वीडियो फुटेज और सीसीटीवी निगरानी के आधार पर मामला दर्ज किया जा रहा हैं।अब तक मुजफ्फरनगर में 1,300 लोग लॉकडाउन तोड़ते हुए पकड़े गए थे, उन पर आईपीसी की धारा 188 के तहत मामला दर्ज किया गया है। नेपाल के12 जमातियों सहित कई लोगों पर भारतीय दंड संहिता की धारा 269 (ऐसी बीमारी का संक्रमण फैलाना जो जीवन के लिए खतरनाक हो) और 270 (घातक बीमारी का संक्रमण फैलना जो जीवन के लिए खतरनाक हो) के तहत मामला दर्ज किया गया था।वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने सीसीटीवी कैमरे और मोबाइल फोन फुटेज का उपयोग करके लॉकडाउन उल्लंघनकतार्ओं पर नजर रखने का आदेश दिया था। एसएसपी ने कहा, हम उनके खिलाफ मामले दर्ज करते रहेंगे और अगर कोई दो बार लॉकडाउन का उल्लंघन करता पाया गया तो हम उसे जेल भेजेंगे।


Popular posts
नेशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन मुरादनगर (नीमा )द्वारा जल्द ही कोरोनावायरस संक्रमण को रोकने , समाज एवं जनमानस को जागरूक करने के लिए
नोएडा में 12 नए कोरोना पॉजिटिव केस, इनमें 3 साल का बच्‍चा और नर्स भी शामिल
Image
नायब तहसीलदार जेवर ने किया रन्हेरा के गेहूँ क्रय केन्द्र का स्थलीय निरीक्षण
Image
सरकार की 18 घंटे सप्लाई के दावे का उत्तरदायी कौन
Image
कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए लॉक डाउन के दौरान अवैध शराब की बिक्री एवं तस्करी पर रोक लगाने के उद्देश्य से आबकारी विभाग एवं पुलिस का संयुक्त प्रयास बड़े स्तर पर छापेमारी
Image