कोरोना संकट में जरूरतमंदों के लिए आगे आया आरएसएस, कर रहा है लोगों की मदद

 


नोएडा,  (वेबवार्ता)। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से जरूरतमंदों को राशन उपलब्ध कराने के साथ ही जरूरतमंद परिवार को गोद लेने की पहल शुरू की गई है। आरएसएस की ओर से गुलावली गांव यमुना के पुश्ता क्षेत्र में लोगों को राशन वितरित किया गया। इस दौरान करीब 2500परिवारों को राशन के पैकेट उपलब्ध कराए गए। साथ ही संघ की ओर से पहल की गई कोई भी शख्स जरूरतमंद परिवार को गोद ले सकते हैं। एक परिवार जिसमें चार सदस्य हैं उसके 10-12 दिन के राशन के लिए 630 रुपये देने होंगे। एक शख्स अपनी क्षमता के अनुसार कितने भी परिवार को गोद ले सकता है।


 


संघ की ओर से जिले के विभिन्न इलाकों का सर्वे कर वास्तव में जरूरत पाने वालों को राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। संघ के राजेश अग्रवाल ने बताया कि पैकेट के साथ मास्क भी दिया जाता है जिससे वह खुद को सुरक्षित रख सकें। साथ ही थर्मल स्कैनर से जांच भी कराई जाती है। गुलावली में राशन वितरण करने के दौरान हरी कृष्ण, मनीष गुप्ता, मनीष गोयल, ृष्णपंत, राजेश खंडेलवाल, केशव अग्रवाल, पंकज शर्मा, पंकज गोयल, रमेश शर्मा, दीपक आदि मौजूद रहे।


 


दिव्यांगों ने फोन पर मांगी मदद, जिला प्रशासन ने पहुंचाया राशन


कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन से गरीबों के सामने खाने का संकट खड़ा हुआ है। गरीब और असाहय लोग पुलिस व प्रशासन से मदद मांग रहे है। बुधवार को सेक्टर-35 स्थित मोरना गांव में रहने वाले तीन दिव्यागों ने जिला प्रशासन के इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम पर फोन करके कहा है कि उनके पास राशन नहीं है। सूचना मिलने के तुंरत बाद जिला प्रशासन की ओर सेऐसे लोगों के खाना पहुंचाया गया है। जानकारी के अनुसार सेक्टर 35 नोएडा मोरना गांव में रहने वाले धर्मेंद्र गुप्ता, राधा कृष्ण एवं अमित कुमार दिव्यांग है।


 


लॉकडाउन के चलते आर्थिक संकट खड़ा हुआ है। अब राशन की भी कमी है। तीन दिव्यांगों ने प्रशासन के कंट्रोल रूम पर फोन किया और कहा कि उनके पास राशन नहीं है। सूचना मिलने बाद जिला प्रशासन की टीम मदद लेकर पहुंची। जरूरतमंद को सात किलो आटा, दो किलो चावल, एक किलो दाल एवं एक किलो नमक तत्काल राहत के रूप में तीनों दिव्यांगजनों को अलग अलग उपलब्ध कराया गया। अपर जिलाधिकारी प्रसासन दिवाकर सिंह ने बताया कि सरकारी सामुदायिक किचन 11 एवं स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा संचालित 91 किचन से एक लाख 48 हजार 772 लोगों को भोजन एवं राशन वितरण किया गया है। साथ ही 33 हॉट स्पॉट में 11621 राशन कार्डों पर राशन वितरित किया गया।


 


प्रशासन की देखरेख में हो जरूरतमंदों की मदद


सेक्टर-27 को प्रशासन ने सील कर रखा है, लेकिन मंगलवार को बड़ी संख्या में जरूरतमंद भोजन लेने को यहां एकत्रित हो गए। इस दौरान लाइन बनवाने व शारीरिक दूरी का पालन कराने की कई बार कोशिश की गई, लेकिन व्यवस्था नहीं बन सकी। सेक्टर 27 आरडब्ल्यूए ने प्रशासन से मांग की है कि सील के दौरान भी जरूरतमंदों को खाना मिल सके, इसके लिए यहां व्यवस्था की जाए। सेक्टर अध्यक्ष राजीव गर्ग ने बताया कि सेक्टर के ब्लॉक में कुछ ऐसे किरायेदार हैं, जो दिन भर मेहनत कर भरण-पोषण करते हैं।


 


लॉकडाउन के बाद इन लोगों के सामने भोजन का संकट पैदा हो गया। ऐसे लोगों के लिए कई सामाजिक संगठन भोजन व राशन उपलब्ध करा रहे हैं। पिछले दिनों कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के कारण सेक्टर को सील कर दिया गया। मंगलवार को भोजन वितरण के दौरान लोगों को एक-दूसरे से दूरी बनाए रखने व लाइन में खड़े होने को कहा गया, लेकिन कई बार इसकी अनदेखी की गई।


Popular posts
गाजियाबाद पुलिस की बड़ी कार्रवाई"_ अंतरराज्यीय वाहन चोर गैंग का खुलासा, कब्जे से चोरी के सात चार पहिया लग्जरी वाहन बरामद
Image
जिला चेयरमैन दानिश सैफी व शहर चेयरमैन मोहम्मद गुड्डू के नेतृत्व में पूर्व मुख्यमंत्री बरकतुल्ला खान साहब की पुण्यतिथि मनायी
Image
मुरादनगर पुलिस ने चेकिंग के दौरान चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले शातिर गैंग के छह बदमाशो को किया गिरफ्तार
Image
कोविड-19 के प्रोटोकॉल को लेकर जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग करें प्रभावी कार्रवाई नोडल अधिकारी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट के सभागार में कोविड-19 को लेकर मीटिंग संपन्न
Image
समस्त क्षेत्रवासियों को विजय शर्मा मानव अधिकार युवा संगठन की ओर से दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं
Image