यूपी रोडवेज की बस ने सड़क पर पैदल जा रहे मजदूरों को कुचला, 6 की मौत

 


लखनऊ, (वेबवार्ता)। उत्तर प्रदेश में एक बार फिर पैदल अपने घरों की ओर लौट रहे मजदूरों पर सड़क ही काल बन गई। उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर और सहारनपुर के बॉर्डर कल देर रात एक दर्दनाक हादसा घट गया। यहां आधी रात में रोडवेज बस ने पैदल जा रहे मजदूरों को कुचला दिया। इस हादसे में 6 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई। वहीं 4 मजदूर गंभीर रूप से घायल। सभी गंभीर घायल मजदूरों को मेरठ मेडिकल में रेफर किया गया है।


 


पुलिस के मुताबिक यह हादसा देर रात का है। जब रोडवेज की बस का संतुलन बिगड़ गया। बस ने सड़क किनारे जा रहे मजदूरों को टक्कर मार कुचल दिया। पुलिस ने घटना के बाद रोडवेज बस सहित ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है। सभी मजदूर सहारनपुर की ओर से आ रहे थे और इन्हें अपने प्रदेश बिहार जाना था और ये पैदल ही रात्रि में निकल पड़े थे।


 


कानपुर हादसे में 2 की मौत


कानपुर हाइवे पर प्रवासी मजदूरों से भरा एक मिनी ट्रक रास्ते में खड़े एक अन्य ट्रक से टकरा गया। घटना के बाद हाइवे पर चीख पुकार मच गई। दुर्घटना इतनी जबर्दस्त थी कि दो लोगों की इस टक्कर में मौत हो गई। मृतकों मे एक माशूम भी शामिल है। वहीं तकरिबन 60 मजदूर गंभीर बताए जा रहे हैं। कई मजदूरों की हालत नाजुक बताई जा रही है। पुलिस के अनुसार यहां हाइवे पर प्रवासी मजदूरों से भरा एक ट्रक दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस हादसे में 2 लोगों की मौत हो गई। वहीं इस हादसे में कई मजदूरों के घायल होने की भी खबर है। यह हादसा कानपुर झांसी हाइवे पर हुआ है। इस हादसे की वजह से हाइवे पर लंबा जाम लग गया है। घटना अकबरपुर कोतवाली क्षेत्र के जिला मुख्यालय के पास नेशनल हाइवे की है। ये सभी मजदूर अहमदाबाद से यूपी के बलरामपुर जा रहे थे।


 


 


Popular posts
नेशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन मुरादनगर (नीमा )द्वारा जल्द ही कोरोनावायरस संक्रमण को रोकने , समाज एवं जनमानस को जागरूक करने के लिए
नोएडा में 12 नए कोरोना पॉजिटिव केस, इनमें 3 साल का बच्‍चा और नर्स भी शामिल
Image
नायब तहसीलदार जेवर ने किया रन्हेरा के गेहूँ क्रय केन्द्र का स्थलीय निरीक्षण
Image
सरकार की 18 घंटे सप्लाई के दावे का उत्तरदायी कौन
Image
कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए लॉक डाउन के दौरान अवैध शराब की बिक्री एवं तस्करी पर रोक लगाने के उद्देश्य से आबकारी विभाग एवं पुलिस का संयुक्त प्रयास बड़े स्तर पर छापेमारी
Image