प्रियंका ने उप्र में किसानों, मजदूरों और छोटे उद्योगों के लिए राहत की मांग की

नई दिल्ली,  (वेबवार्ता)। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह किया कि कोरोना संकट से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य के किसानों, मजदूरों और छोटे उद्योगों को तत्काल राहत एवं वित्तीय सहायता दी जाए। योगी को लिखे पत्र में उन्होंने यह भी कहा कि किसानों को फसल की कटाई में मदद के साथ उनकी उपज की खरीद भी सुनिश्चित करने की जरूरत है। कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने कहा, ''कोरोना महामारी ने ज्यादातर क्षेत्रों की कमर तोड़ दी है। हर तबका इस आपदा और इसके दुष्प्रभावों से परेशान है। कोरोना की वजह से कई ऐसे आर्थिक व सामाजिक स्तर के मुद्दे हैं जिन पर तुरंत ध्यान देने से आमजन को बहुत राहत मिलेगी।'' उन्होंने किसानों की समस्याओं का उल्लेख करते हुए कहा, ''विगत दिनों में उत्तर प्रदेश के किसानों पर ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश की मार पड़ी थी। उत्तर प्रदेश सरकार मुआवजा देने की भी घोषणा की थी, लेकिन अभी तक किसानों को मुआवजा नहीं मिला है। यह मुआवजा तत्काल जारी किया जाए।'' प्रियंका के मुताबिक़ उत्तर प्रदेश का कांच उद्योग, पीतल उद्योग, कालीन उद्योग, बुनकरी, फ़र्नीचर उधयोग, चमड़े का उद्योग, होजरी उद्योग, डेयरी, मिट्टी बर्तन उद्योग, फिशरी-हेचरी उद्योग, अन्य घरेलू उद्योग सभी को तेज झटका लगा है। उन्होंने आग्रह किया कि छोटे उद्योगों की मदद और प्रदेश की आर्थिक स्थिति को पटरी पर लाने के लिए ''आर्थिक पुनर्निर्माण कार्य बल'' का गठन किया जाए। कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि मजदूरों को आर्थिक मदद की गारंटी करने की जरूरत है। उन्होंने कहा, ''कई जगह राशन न मिलने की शिकायतें आ रहीं हैं। बिना राशनकार्ड धारको को भी राशन देने की गारंटी की जाए और राशन में चावल के साथ गेंहू, दाल, तेल, नमक और मसाला पाउडर भी दिया जाए।''


Popular posts
नेशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन मुरादनगर (नीमा )द्वारा जल्द ही कोरोनावायरस संक्रमण को रोकने , समाज एवं जनमानस को जागरूक करने के लिए
नोएडा में 12 नए कोरोना पॉजिटिव केस, इनमें 3 साल का बच्‍चा और नर्स भी शामिल
Image
नायब तहसीलदार जेवर ने किया रन्हेरा के गेहूँ क्रय केन्द्र का स्थलीय निरीक्षण
Image
सरकार की 18 घंटे सप्लाई के दावे का उत्तरदायी कौन
Image
कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए लॉक डाउन के दौरान अवैध शराब की बिक्री एवं तस्करी पर रोक लगाने के उद्देश्य से आबकारी विभाग एवं पुलिस का संयुक्त प्रयास बड़े स्तर पर छापेमारी
Image